Google+ Followers

Friday, 31 October 2014

"वफा" की रस्म निभाने....

"वफा" की रस्म निभाने कोई नही आता,
"घर" पड़ोसी का बचाने कोई नही आता, "जला" चिराग बुझाने तो लोग आते हैँ,
"बुझा" चिराग जलाने कोई नही आता।

http://hottystan.mywapblog.com/

हर किसी को खुश रख सकूँ....

हर किसी को खुश रख सकूँ,
वो तरीका मुझे नहीं आता.. जो मैं नहीं हूँ वैसा दिखने का,
सलीका मुझे नहीं आता ।।

http://hottystan.mywapblog.com/


Thursday, 23 October 2014

Kuch Khass Nahi...

Kuch Khass Nahi Bus Itni Si Mohabbat Hai Meri,

Har Raat Ka Akhri Khayal, 

Har Subah Ki Pehli Soch Tum Ho...



http://hottystan.mywapblog.com/

मैं झुक गई तो......

मैं झुक गई तो वो सज़दा समझ बैठे;

मैं तो इन्सानियत निभा रही थी, 

वो खुद को ख़ुदा समझ बैठे।

http://hottystan.mywapblog.com/


Monday, 20 October 2014

चेहरों में दूसरों के....


चेहरों में दूसरों के तुझे ढूँढ़ते रहे ,

कहीं सूरत नहीं मिली कहीं सीरत नहीं मिली.....

http://hottystan.mywapblog.com/
Add caption


Sunday, 19 October 2014

उसने महबूब ही तो.........


उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्ज़ुब कैसा..


दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है..

http://hottystan.mywapblog.com/



Saturday, 18 October 2014

दुनिया का सबसे...


दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वहीं होता है, 

जहाँ एक हल्की सी मुस्कराहट और छोटी सी माफ़ी से 

ज़िन्दगी दोबारा पहले जैसी हो जाती है।


http://hottystan.mywapblog.com/

होता जो अगर ये...


होता जो अगर ये मुमकिन ?

तो मै तुजे साँस बनाकर दिल में रखती
,

तू रुक जाये तो मै नहीं, मै मर जाऊं तो तू नहीं.


http://hottystan.mywapblog.com/



Monday, 13 October 2014

Shahnshahi nahi......


Shahnshahi nahi faqeeri Ata kar mujhe Maula,

hum zameeno PE nahi Dilo PE raaj chahte hain...

http://hottystan.mywapblog.com/



Saturday, 11 October 2014

छोड़ दे सारी दुनिया....


छोड़ दे सारी दुनिया किसी के लिए,

ये मुनासिब नहीं आदमी के लिए....

प्यार से भी ज़रूरी कई काम हैं,

प्यार सब कुछ नहीं ज़िंदगी के लिए...



http://hottystan.mywapblog.com/



Mesal-E-Aatish....

Mesal-E-Aatish He Ye Rog-E- Mohabbat, 

Roshan To Zarur Karti He Magar Jala Jala Kar...

http://hottystan.mywapblog.com/

Friday, 10 October 2014

खैर, मैं प्यासा रहा..


खैर, मैं प्यासा रहा पर उसने इतना तो किया,
मेरी पलकों की कतारों को वो पानी दे गया..

http://hottystan.mywapblog.com/


हमें तो शामे-ग़म...

हमें तो शामे-ग़म में काटनी है ज़िन्दगी अपनी ,

जहाँ वो हों वहीं ऎ चाँद ले जा चाँदनी अपनी..

http://hottystan.mywapblog.com/

बीते कल का अफ़सोस....


बीते कल का अफ़सोस और आने वाले कल की चिंता,
दो ऐसे चोर हैं जो हमारे आज की ख़ूबसूरती को चुरा लेते हैं।

http://hottystan.mywapblog.com/

Thursday, 9 October 2014

इसलिए रात को...

इसलिए रात को भी सोना छोड़ दिया !! वो ख्वाबों में भी बिछड़ गए तो मर जाएंगे हम !

http://hottystan.mywapblog.com/

Zakhm Chupane K Liye....

Zakhm Chupane K Liye Bahana Chahiye..
Dard Sunane K Liye zamana Chahye.. Har Shaksh Karib Aakar Chala Gaya,
ek Wo Hi Nehi Aye Jinko Aana Chahye..

http://hottystan.mywapblog.com/

नासमझ तो वो ना थे इतना..

नासमझ तो वो ना थे इतना.. कि प्यार को हमारे समझ ना सके.. पेश किया दर्द-ए-दिल हमने नगमों में.. उसे वो सिर्फ शेर समझ बैठे!

http://hottystan.mywapblog.com/

mere hum safar......


mere hum safar mere humsafar

we are upload a nice song for all our fans of HOTTYSTAN:
जिसको गया है नगमा जी ने, तो आइए सुनते हैं उनकी सुरीली आवाज में दिल को छू लेने वाला ये गीत..see on youtube
(kisi raah mein, kisi mod par kahin chal na dena tuu chhod kar)


कौन कहता है कि दिल....

कौन कहता है कि दिल सिर्फ लफ्जों से दुखाया जाता है;

तेरी खामोशी भी कभी कभी आँखें नम कर देती है।

http://hottystan.mywapblog.com/


Wednesday, 8 October 2014

हर रास्ता एक सफर....

हर रास्ता एक सफर चाहता है;
हर मुसाफिर एक हमसफ़र चाहता है;
जैसे चाहती है चांदनी चाँद को;
कोई है जो आपको इस कदर चाहता है।

http://hottystan.mywapblog.com/

Tuesday, 7 October 2014

अभी तो तड़प-तड़प के....


अभी तो तड़प-तड़प के दिन के उजालो से निकला हु,
ना जाने रात का अँधेरा और कितना रुलाएगा।"

http://hottystan.mywapblog.com/

दिपावली आ रही है....


दिपावली आ रही है,
घर के साथ साथ कुछ रिश्तो पर जमी धुल भी साफ कर लेना...
खुशियाँ चार गुनी हो जाएगी...!!!

http://hottystan.mywapblog.com/


अगर दुनिया में जीने....


अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती...
लोग मरने की आरज़ू ना करते,
अगर मोहब्बत में बेवाफ़ाई ना होती...!!!

http://hottystan.mywapblog.com/

क्या अजीब सबूत माँगा....


क्या अजीब सबूत माँगा उसने मेरी मोहब्बत का ...
की मुझे भूल जाओ तो मानु की तुम्हे मुझसे मोहब्बत है ...

http://hottystan.mywapblog.com/

Monday, 6 October 2014

chirag-e-ishq....

chirag-e-ishq jalne ke rat aayi hai, 
kisi ko apana banane ke rat aayi hai ..

falak ka chand bhi sharma ke munh chupayega, 
naqab rukh se uthane ke rat aayi hai ..

nigah-e-saqi se paiham chalak rahi hai sharab, 
pio ki pine-pilane ke rat aayi hai.. 

wo aj aae hain mahafil mein chandani lekar ,
ki raushani mein nahane ke rat aayi hai..

http://hottystan.mywapblog.com/

रिश्ते बनते रहें.....

रिश्ते बनते रहें इतना ही बहुत है..

सब हँसते रहें इतना ही बहुत है..

हर कोई हर वक़्त साथ नहीं रह सकता,

याद एक दुसरे को करते रहें इतना ही बहुत है..

hottystan


Sunday, 5 October 2014

कैसे बयान करे आलम......

कैसे बयान करे आलम दिल की बेबसी का,
  
  वो क्या समझे दर्द आंखों की नमी का..
   
   
   ऊनके चाहने वाले ईतने हो गये की…..


   उन्हे एहसास नहीं हमारी कमी का……


hottystan

Saturday, 4 October 2014

जहां तक रिश्तों का सवाल है.......

जहां तक रिश्तों का सवाल है. लोगो का आधा वक़्त. "अन्जान लोगों को इम्प्रेस करने और अपनों को इग्नोर करने में चला जाता हैं...!

hottystan

आज कुछ नही है.....

आज कुछ नही है मेरे शब्दों के गुलदस्ते में !!!!
कभी कभी मेरी ख़ामोशियाँ भी पढ़ लिया करो !!!

hottystan

Friday, 3 October 2014

फूँक डालूँगा किसी रोज....

फूँक डालूँगा किसी रोज ये दिल की दुनिया


ये तेरा खत तो नहीं है कि जला भी न सकूँ।।

hottystan

"उल्फत की जंजीर से....

"उल्फत की जंजीर से डर लगता हैं,

कुछ अपनी ही तकदीर से डर लगता हैं,

जो जुदा करते हैं, किसी को किसी से,

हाथ की बस उसी लकीर से डर लगता हैं."

hottystan


तन्हाई तो साथी है.....

तन्हाई तो साथी है अपनी जिन्दगी के हर एक पल की ........

चलो ये शिकवा भी दूर हुआ कि किसी ने साथ नहीं दिया .....!!





Thursday, 2 October 2014

वो इस चाह में रहते....

वो इस चाह में रहते हैके हम उनको उनसे मांगे,

और हम इस गुरुर में रहते हैके हम अपनी ही चीज़ क्यूँ मांगे.?

hottystan

हर किसी को खुश रखना...

हर किसी को खुश रखना, 
शायद हमारे वश में न हो, 

पर किसी को हमारी वजह से 
दु:ख न पहुंचे यह हमारे वश में है।

hottystan


शौक जिन्दगी के रखती है...

शौक जिन्दगी के रखती है,

ख्वाब मर जाने के देखती है. 

वो मुस्कराहट मेंरी, जब उदासी देखती है.

hottystan

ना मिलता गम तो.....

ना मिलता गम तो बर्बादी के अफ़साने कहाँ जाते ,

दुनिया अगर होती चमन तो वीराने कहाँ जाते ,

चलो अछा हुआ अपनों में कोई गैर तो निकला ,

सभी अगर होते अपने तो बेगाने कहाँ जाते …


Har Kisi ko itni ehmiyat......

Har Kisi ko itni ehmiyat do jitni Wo Tumko deta hai ..

            Agar kam do ge Maghroor kehlao ge ..

            Agar jyada do ge to Khud gir jao ge .. !!


Mousam Ki Tarha.....

Mousam Ki Tarha Badalte Hain Uss Ke Eraade.... 

Upar Se Yeh Zidd K Mujh Pe Aitabaar Karo ....



Wednesday, 1 October 2014

जब कभी तेरा नाम लेते हैं....

        जब कभी तेरा नाम लेते हैं, 

              दिल से हम इन्तकाम लेते हैं, 

   बस यही एक ज़ुर्म है अपना, 

          हम मुहब्बत से काम लेते हैं...


ये दो लफ़्ज़ों की....

         ये दो लफ़्ज़ों की 
   तेरी-मेरी कहानी ,

         तू "मक्का" की धूल 
    मैं "काशी" का पानी.....

http://hottystan.mywapblog.com/