Google+ Followers

Sunday, 14 December 2014

"आपसे बात की....


"आपसे बात की तमन्ना है...

इक मुलाकात की तमन्ना है...

"आज तक हारती ही रही हूँ मैं...

आपसे फ़िर मात की तमन्ना है...

"आप आ बैठो मेरे पहलू में...

उस हसीं रात की तमन्ना है...

"जिस्म दो, एक जाँ बने हम-तुम...

ऐसे जज़्बात की तमन्ना है...


http://hottystan.mywapblog.com/