Google+ Followers

Monday, 22 December 2014

तुझको छूकर मेरे....


तुझको छूकर मेरे एहसास पे क्या गुजरेगी...

मेरे अंदर यही कोहराम मचा रहता है...

इतना नज़दीक वो पहले न हुआ था मुझसे...


अब बिछड़ जाने का अंदेशा लगा रहता है...


http://hottystan.mywapblog.com/