Google+ Followers

Tuesday, 7 October 2014

अभी तो तड़प-तड़प के....


अभी तो तड़प-तड़प के दिन के उजालो से निकला हु,
ना जाने रात का अँधेरा और कितना रुलाएगा।"

http://hottystan.mywapblog.com/